प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात कार्यक्रम में किसानों की सराहना करते हुए कहा, देश को इतने बड़े संकट का सामना करना पड़ा कि इसने देश की हर व्यवस्था को प्रभावित किया। कृषि क्षेत्र ने इसके हमले से काफी हद तक खुद को बचाया। इसने न सिर्फ खुद को सुरक्षित रखा बल्कि इस क्षेत्र ने काफी तरक्की भी की।

उन्होंने कहा, किसानों ने फसलों का रिकॉर्ड उत्पादन किया और इस बार देश ने रिकॉर्ड मात्रा में फसलों की खरीद की। इस समय देश के कई हिस्सों में किसानों को सरसों की खरीद बेचने पर न्यूनतम समर्थन मूल्य से ज्यादा पैसा मिला।

मोदी ने कहा, गेहूं के रिकॉर्ड उत्पादन से हम देश के प्रत्येक व्यक्ति की मदद करने में समर्थ हुए। आज संकट की इस घड़ी में 80 करोड़ वंचित नागरिकों को मुफ्त राशन उपलब्ध कराया जा रहा है और हर जरूरतमंद के घर चूल्हा जल रहा है।

पीएम ने बीते सात साल में लोगों के जीवन स्तर में बदलाव लाने संबंधी योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा, इस दौरान हमें करोड़ों खुशियों में शामिल होने का सौभाग्य मिला है। इस दौरान देश में आए आमूल-चूल परिवर्तन को दुनिया ने देखा है। कई गांवों में 70 साल बाद बिजली पहुंची है। उन गांवों में बच्चे उजाले और पंखे में बैठ कर पढ़ रहे हैं।

इतने ही अंतराल के बाद कई गांव पक्की सड़क के जरिए शहर से जुड़े हैं। करोड़ों लोग बैंक खाता खुलने की खुशी साझा करते हैं। अलग-अलग योजनाओं के जरिए रोजगार शुरू करने वाले, योजनाओं के तहत अपना घर हासिल करने वालों की करोड़ों खुशियों में मैं शामिल हुआ हूं।

अगतरला के कटहल, बिहार की शाही लीची और विजयनगरम के आम का जिक्र

पीएम ने कहा, किसान रेल अब तक लगभग दो लाख टन उपज का परिवहन कर चुकी है। अब किसान बहुत ही कम कीमत पर देश के अन्य दूरदराज के हिस्सों में फल, सब्जियां, अनाज भेजने में सक्षम हैं। कई इलाकों में किसान नए इंतजाम का लाभ लेकर बहुत अच्छा कर रहे हैं।

उदाहरण के तौर पर अगरतला के किसान कटहल की बहुत अच्छी फसल कर रहे हैं। देश-विदेश में उनकी मांग को देखते हुए इस बार अगरतला के किसानों का कटहल रेल से गुवाहाटी लाया गया। ये कटहल अब गुवाहाटी से लंदन भेजे जा रहे हैं। इसी तरह सरकार ने वर्ष 2018 में बिहार की शाही लीची को जीआइ टैग दिया था।

इसकी पहचान मजबूत हो और किसानों को ज्यादा फायदा हो, इसके लिए लीची हवाई मार्ग से लंदन भेजी गई है। वहीं, विजयनगरम के आम दिल्ली लाए जा रहे हैं। हमारा देश पूर्व से पश्चिम और उत्तर से दक्षिण तक ऐसे ही अपने स्वाद एवं उत्पादों से भरा पड़ा है।

news #hindinews #aapkaneta #livenews #latestnews #breakingnews

Vedavyapeace #Livenews #livenewschannel #pmmodi

You missed